Flipkart
Politics

मोदी ने बुलाई आपातकाल बैठक ! मोदी के इन 5 फैसलों से हिलने वाला है देश !

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

नोटबंदी पर सारा विपक्ष अब सरकार के खिलाफ हो गया है.

खासकर विपक्ष मोदी ने पीछे हाथ घोकर पड़ा है. विपक्ष नोटबंदी के फैसले को जैसे मोदी की नाकामी बता रहा है.

Advertisement


बीते दिनों पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जब इस धर्म युद्ध में कूदे तो उन्होंने भी नोट बंदी को सरकार की नाकामी बताया है. मनमोहन सिंह ने बताया कि विश्व का कोई ऐसा देश नहीं होगा जहाँ लोगों को अपने जमा पैसे निकालने से रोका गया हो.

वैसे सूत्रों की मानें तो बीजेपी भी अंदर से नोटबंदी के मुद्दे पर दो खेमों में विभाजित है.

वरिष्ट लोगों का एक समूह भी मोदी के इस फैसले से खफा है. संसद में जब मोदी ने खुद को घिरते पाया तो आनन-फानन में मोदी ने रात को ही कैबिनेट की एक आपातकाल बैठक बुलाई.

Advertisement


तो आइये आपको बताते हैं कि इस आपातकाल बैठक में कौन-से मुख्य फैसले लिए गये हैं-

आपातकाल बैठक के फैसले –

1. बीजेपी कार्यकर्त्ता घर-घर जायें और लोगों को समझाए

सूत्रों की मानें तो मोदी ने सभी नेताओं को सलाह दी है कि नोटबंदी के फायदे जनता को बताने जरुरी हैं. कार्यकर्ताओं का सबसे पहले शिविर लगाया जाए और इसके बाद इन्हीं कार्यकर्ताओं से घर-घर जाकर नोटबंदी के फायदे लोगों को बताने की अपील की जाये. इस तरह से मोदी सरकार सीधे जनता से संवाद की स्थिति में आ जाएगी.

2. विपक्ष को आंकड़ों के आधार पर घेरो

इस आपातकाल बैठक में फैसला लिया गया है कि विपक्ष इस समय आंकड़ों के आधार पर नहीं बल्कि हवाई शब्दों के आधार पर सरकार के इस फैसले का विरोध कर रहा है तो इसका तोड़ यह है कि मोदी सरकार आंकड़ों के आधार पर बात करे. नोटबंदी के बाद के कुछ ख़ास आंकड़ों को जुटाया जा रहा है.

Also Read  नोटबंदी के बाद होने वाला है ये बड़ा फैसला जिससे घमासान मच जाएगा !

3. बड़े कालाबजारी लोगों पर कार्यवाही करने का वक़्त आ गया है

जनता को अपने विश्वास में लेना ही मोदी का अहम उद्देश्य है. इस कार्य के लिए निर्णय लिया गया है कि कुछ बड़े काला धन जमा किये हुए लोगों पर एक बड़ी कार्यवाही कर दी जाए. ऐसी कार्यवाही के बाद जनता जरुर सरकार के साथ खड़ी हो जाएगी. कांग्रेस को नोटबंदी के फायदे बताने से अच्छा है कि कुछ बड़ी कार्यवाही करके कांग्रेस को जवाब दिया जाए.

4. तैयारी पूरी कर जनता को राहत जल्द से जल्द दी जाए

साथ ही मोदी ने कठोर शब्दों में सभी को बोला है कि किसी भी हालत में जनता को जल्द से जल्द राहत देनी होगी. बैंकों को अधिक काम करना पड़े तो भी कोई दिक्कत नहीं है. बस जनता का पैसा जो उनकी मेहनत का है वह जल्दी ही उनके बैंक अकाउंट में पंहुचा दिया जाए. साथ ही मोदी ने फैसला लिया है कि देश के एटीएम के साथ जो समस्या आ रही है उसे अगले दो दिन में सुलझाने का काम किया जाये.

5. कालेधन को लेकर अपनों के खिलाफ भी कार्यवाही होगी

सूत्रों की मानें तो इस बैठक में सबसे अहम फैसला लिया गया है कि बैंकों से उन लोगों की लिस्ट ली जाए जिन्होनें तय सीमा से अधिक पैसा अकाउंट में जमा कराया है. इस लिस्ट में अगर कोई अपना व्यक्ति भी है तो उसके खिलाफ भी कार्यवाही की जाये. इनकम टेक्स डिपार्टमेंट को बिना किसी दबाव के काम करने दिया जाए ऐसा भी पीएम ने फैसला लिया है.

Also Read  Mcd Election 2017: Exit Polls Predict Bjp Win, Kejriwal Rout On Day Of 54% Turnout

Advertisement


इस तरह से प्रधानमंत्री मोदी ने कल बुलाई अपनी कैबिनेट बैठक में यह 5 मुख्य निर्णय लिए हैं.

सूत्रों की मानें तो प्रधानमंत्री नोटबंदी पर अब और भी कठोर निर्णय लेने वाले हैं. विपक्ष को आने वाले समय में और तकलीफ देना ही मोदी का उद्देश्य रहेगा.

Source – youngisthan.in/hindi

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.
Power Bank
Loading...
Power Bank
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Comment moderation is enabled. Your comment may take some time to appear.

Power Bank
To Top