Flipkart
Sports

INDvsENG: कटक में युवराज-धोनी की करिश्माई पारी, मैच के साथ सीरीज भी हमारी

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

टीम इंडिया ने कटक में खेले गए तीन वनडे मैचों की सीरीज का दूसरा मैच भी अपने नाम कर मेहमान इंग्लैंड टीम पर 2-0 की बढ़त ले ली है और सीरीज अपने नाम कर ली है. भारत ने इंग्लैंड को जीत के लिए 382 रनों का नामुमकिन सा लक्ष्य रखा था लेकिन इंग्लैंड की टीम निर्धारित 50 ओवरों में 8 विकेट खोकर 366 रन ही बना सकी और  15 रन से मैच गंवा बैठी. इंग्लैंड की ओर से जेसन रॉय ने 82, जोए रूट ने 54, मोईन अली ने 55 और कप्तान इयॉन मॉर्गन ने सबसे अधिक 102 रन बनाए. वो रन आउट हुए. भारत की ओर से आर अश्विन ने तीन, जसप्रित बुमराह ने दो और भुवनेश्वर कुमार और रवींद्र जडेजा ने 1-1 विकेट लिया.

इससे पहले विश्व कप-2011 में शतकीय पारी के बाद रनों का सूखा झेल रहे युवराज सिंह ने अपना पहला शतक जड़ते हुए पुराने जोड़ीदार महेंद्र सिंह धोनी (134) के साथ 256 रनों की साझेदारी कर भारत को 50 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 381 रनों के विशाल स्कोर तक पहुंचाया. युवराज ने शानदार 150 रनों की पारी खेली, जिसके लिए उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया. यह इंग्लैंड के खिलाफ किसी भी टीम का तीसरा सर्वश्रेष्ठ स्कोर है. साथ ही यह भारत का इंग्लैंड के खिलाफ दूसरा सर्वोच्च स्कोर है.

टॉस हारने के बाद भारत ने इंग्लैंड द्वारा बल्लेबाजी का आमंत्रण मिलने पर 25 रनों पर ही अपने तीन विकेट खो दिए थे. लोकेश राहुल (5), शिखर धवन (11) और कप्तान कोहली (8) पवेलियन लौट चुके थे. इसके बाद युवराज और धोनी की अनुभवी जोड़ी ने अपनी कुशलता का परिचय देते हुए टीम को मजबूती प्रदान किया. दोनों ने चौथे विकेट के लिए 38.2 ओवरों में 6.67 की औसत से रन जोड़े. यह एकदिवसीय क्रिकेट में चौथे विकेट के लिए अभी तक की दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी है.

Also Read  Rising Pune Supergiants vs Mumbai Indians, IPL 2017, T20: Pandya takes MI to 184/8

लगातार टीम से अंदर-बाहर हो रहे युवराज ने इस मैच में पुराने अंदाज में बल्लेबाजी की और अपने ट्रैडमार्क शॉट्स खेले. पूर्व कप्तान धोनी ने युवराज का बखूबी साथ दिया और उन्हें स्ट्राइक देते रहे.

युवराज का यह एकदिवसीय क्रिकेट में सर्वोच्च स्कोर भी है. शुरुआत में धीमी बल्लेबाज कर रहे धोनी ने अंतिम ओवरों में रफ्तार पकड़ी. उन्होंने क्रिस वोक्स द्वारा फेंके गए 43वें ओवर की दूसरी गेंद पर छक्का मारते हुए एकदिवसीय में 200 छक्के अपने नाम दर्ज किए.

यह किसी भी भारतीय द्वारा इस प्रारूप में लगाए गए सबसे ज्यादा छक्के हैं. इस मैच में उन्होंने 122 गेंदें खेलते हुए 10 चौके और छह छक्के जड़े. उनके नाम अब 203 छक्के दर्ज हो गए हैं.

इसके साथ ही धोनी ने एकदिवसीय में चार साल बाद शतक जड़ा है. उन्होंने अपना अंतिम शतक 23 अक्टूबर, 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मोहाली में जड़ा था. युवराज ने अपना आखिरी शतक 2011 विश्व कप में वेस्टइंडीज के खिलाफ चेन्नई में जड़ा था.

युवराज ने पहली बार एकदिवसीय में 150 रनों का आकंड़ा छुआ. वह 281 के कुल स्कोर पर वोक्स की गेंद पर विकेट के पीछे जोस बटलर द्वारा लपके गए. उन्होंने 127 गेंदों में 21 चौके और तीन छक्के लगाए.

धोनी ने युवराज के जाने के बाद एक्सीलेटर पर पांव रखा और तेजी से रन बटोरे. पहले मैच में शतकीय पारी खेलने वाले केदार जाधव ने भी आते ही बड़े शॉट्स लगाने शुरू कर दिए. जाधव ने 10 गेंदों में तीन चौके और एक छक्के की मदद से 22 रन बनाए.

Also Read  Watch : MS Dhoni challenge for Jasprit Bumrah

धोनी 48वें ओवर की आखिरी गेंद पर आउट हुए. उन्हें लियाम प्लंकट ने डेविड विले के हाथों कैच कराया. हार्दिक पंड्या (नाबाद 19) और रवींद्र जडेजा (नाबाद 16) ने टीम को 381 के आंकड़े तक पहुंचाया. इंग्लैंड की ओर से क्रिस वोक्स ने चार विकेट लिए. प्लंकट को दो विकेट मिले.

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.
Power Bank
Loading...
Power Bank
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Comment moderation is enabled. Your comment may take some time to appear.

Power Bank
To Top